Join our Telegram channel

स्वामी विवेकानंद के अनमोल वचन । Swami Vivekananda quotes in Hindi

50+ स्वामी विवेकानंद के अनमोल वचन । Swami Vivekananda Quotes in Hindi

Motivational quotes of Swami Vivekananda in Hindi

स्वामी विवेकानंद के 51 अनमोल और प्रेरणादायक विचार ( Best 51 Life Changing Swami Vivekananda Quotes in Hindi 2022 )


स्वामी विवेकानंद कहते हैं -

Quote 1

 " अपना जीवन एक लक्ष्य पर निर्धारित करो अपने पूरे शरीर को उस एक लक्ष्य से भर दो । और हर दुसरे विचार को अपनी ज़िन्दगी से निकाल दो यही सफ़लता की कुंजी है । "


Quote 2

 " जिंदगी का रास्ता बना बनाया नहीं मिलता है , स्वयं को बनाना पड़ता है , जो जैसा मार्ग बनाता है उसे वैसा ही मंज़िल मिलता है । "


Quote 3

" उठो , जागो और तब तक मत रुको जब तक लक्ष्य प्राप्त ना हो जाये । "


Quote 4

" किसी दिन , जब आपके सामने कोई समस्या ना आये तो आप सुनिश्चित हो सकते हैं कि आप गलत मार्ग पर चल रहे हैं । "


Quote 5

ब्रह्मांड की सारी शक्तियां पहले से हमारी है वह हम ही हैं जो अपनी आंखों पर हाथ रख लेते हैं और फिर रोते हैं कि कितना अंधकार है ।

 

Quote 6

 " सत्य को हजार तरीके से बताया जा सकता है किंतु फिर भी हर एक सत्य ही होगा । "


Quote 7

" हम भले ही पुराने सड़े घाव को स्वर्ण से ढक कर रखने की चेष्टा करें एक दिन ऐसा आएगा जब वह स्वर्ण वस्त्र खिसक जाएगा और वह घाव अत्यंत वीभत्स घाव रूप में हमारे आंखों के सामने प्रकट हो जाएगा । "


Quote 8

" एक बात हमेशा याद रखिए कि संभव की सीमा जानने का केवल एक ही मार्ग है और वह है कि असंभव से भी आगे निकल जाना । " 


Quote 9

" जीवन में ज्यादा रिश्ते होना ज़रूरी नहीं है , पर जो रिश्ते हैं उनमें जीवन होना ज़रूरी है । "


Quote 10

जितना बड़ा संघर्ष होगा जीत उतनी ही बड़ी होगी । 

 

Quote 11 

" दिन में एक बार स्वयं से अवश्य बात करें , अन्यथा आप एक बेहतरीन इंसान से मिलने का मौका चूक जाएंगे । "


Quote 12

" आकांक्षा , अज्ञानता , और असमानता ये बंधन की त्रिमूर्तियां हैं । "


Quote 13

" दुनिया मज़ाक करे या तिरस्कार , उसकी परवाह किये बिना मनुष्य को अपना कर्त्तव्य करते रहना चाहिये । "


Quote 14

" जिस तरह से विभिन्न स्रोतों से उत्पन्न धाराएँ अंत में अपना जल समुद्र में मिला देती हैं , उसी प्रकार मनुष्य द्वारा चुना हर मार्ग , चाहे अच्छा हो या बुरा भगवान तक जाता है । "


Quote 15

" उठो मेरे शेरों और इस भ्रम को मिटा दो कि तुम निर्बल हो , ब्लकि तुम एक अमर आत्मा हो स्वच्छंद जीव हो , धन्य हो , सनातन हो , तुम तत्व नहीं हो , ना ही शरीर हो ब्लकि तत्व तुम्हारा सेवक है तुम तत्व के सेवक नहीं हो । 

 

Quote 16

" किसी की निंदा ना करें . अगर आप मदद के लिए हाथ बढ़ा सकते हैं , तो ज़रूर बढाएं । अगर नहीं बढ़ा सकते , तो अपने हाथ जोड़िये , अपने भाइयों को आशीर्वाद दीजिये , और उन्हें सही मार्ग पर चलने की सलाह दीजिए । "


Quote 17

" आप कभी मत सोचिये कि आत्मा के लिए कुछ असंभव है । ऐसा सोचना सबसे बड़ा अधर्म है । अगर कोई पाप है , तो वो ये कहना है कि तुम निर्बल हो , या अन्य निर्बल हैं । "


Quote 18

" अगर धन दूसरों की भलाई करने में मदद करे , तो इसका कुछ मूल्य है , अन्यथा , ये सिर्फ राठ का एक ढेर है , और इससे जितनी जल्दी छुटकारा मिल जाये उतना बेहतर है । "


Quote 19

" हम वो हैं जो हमें हमारी सोच ने बनाया है , इसलिए इस बात का ध्यान रखिए कि आप क्या सोचते हैं । "


Quote 20

खड़े हो जाओ , हिम्मतवान बनो ... ताकतवर बन जाओ , सब जवाबदारियां अपने सिर पर ओढ़ लो , और समझो कि अपने नसीब के रचियता तुम खुद हो । "

 

Quote 21

" जिंदगी बहुत छोटी है , दुनिया में किसी भी चीज़ का घमंड स्थायी नहीं है पर जीवन केवल वही जी रहा है जो दुसरो के लिए जी रहा है , बाकि सभी‌ तो जीवित से अधिक मृत है । "


Quote 22

" जिस शिक्षा से हम अपना जीवन निर्माण कर सकें , मनुष्य बन सकें , चरित्र गठन कर सकें और विचारों का सामंजस्य कर सकें । वही वास्तव में शिक्षा कहलाने योग्य है । "


Quote 23

" भय और अधूरी इच्छाएं ही हमारे समस्त दुखों का मूल हैं । "


Quote 24

" वेदान्त कोई पाप नहीं जानता , वो केवल त्रुटी जानता है । और वेदान्त कहता है कि सबसे बड़ी त्रुटी यह कहना है कि तुम कमजोर हो , तुम पापी हो , एक तुच्छ प्राणी हो , और तुम्हारे पास कोई शक्ति नहीं है और तुम ये नहीं कर सकते । "


Quote 25

दिल और दिमाग के टकराव में दिल की सुनो क्योंकि दिमाग गलत निर्णय ले सकता है लेकिन दिल कभी नही । 

 

Quote 26 

" इस दुनिया में सबसे बड़ा धर्म है अपने स्वभाव के प्रति सच्चे होना । स्वयं पर विश्वास करो । "


Quote 27

" जो तुम सोचोगे हो वो हो जाओगे । यदि तुम खुद को कमजोर सोचते हो , तुम कमजोर हो जाओगे , अगर खुद को ताकतवर सोचते हो , तुम ताकतवर हो जाओगे । "


Quote 28

" एक समय में एक काम करो , और ऐसा करते समय अपनी पूरी आत्मा उसमे डाल दो और बाकी सब कुछ भूल जाओ । "


Quote 29

पढ़ने के लिए जरूरी है एकाग्रता । एकाग्रता के लिए जरूरी है ध्यान क्योंकि ध्यान से ही हम अपने इन्द्रियों पर नियंत्रण रखकर एकाग्रता प्राप्त कर सकते हैं ।


Quote 30

बहुत सी कमियों के बावजूद अगर में स्वयं से प्रेम कर सकता हूँ तो दूसरों में थोड़ी बहुत कमियों की वजह से उनसे घृणा कैसे कर सकता हूँ ।

 

Quote 31

" एक बात हमेशा याद रखिए कि जीवन का रहस्य ' भोग ' में नहीं अनुभव के द्वारा शिक्षा प्राप्ति में है । "


Quote 32

" किसी मकसद के लिए खड़े हों तो एक पेड़ की तरह और अगर गिरो तो एक बीज की तरह । ताकि दुबारा उगकर उसी मकसद के लिए जंग कर सको । "


Quote 33

" स्वामी विवेकानंद कहा करते थे , " जब तक मैं जीवित हूँ , तब तक मैं सीखता रहूँगा । " 


Quote 34

" वह व्यक्ति या वह समाज जिसके पास सीखने को कुछ नहीं है वह पहले से ही मौत के जबड़े में है इसलिए हमेशा कुछ नया सीखते रहिए । "


Quote 35

पवित्रता , धैर्य तथा प्रयत्न के द्वारा सारी बाधायें दूर हो जाती हैं । इसमें कोई संदेह नहीं कि महान कार्य सभी धीरे -धीरे होते हैं ।

 

Quote 36 

 " हम जो बोते हैं वो काटते हैं ।  हम स्वयं अपने भाग्य के विधाता हैं । हवा बह रही है , और जहाज जिनके पाल खुले हैं , इससे टकराते हैं , और अपनी दिशा में आगे बढ़ते हैं , पर जिनके पाल बंधे हैं हवा को नहीं पकड़ पाते । क्या यह हवा की गलती है ? नही  ..... हम खुद अपना भाग्य बनाते हैं । "


Quote 37

" विश्व में अधिकांश लोग इसलिए असफल हो जाते है , क्योंकि उनमें समय पर साहस का संचार नही हो पाता । और वो भयभीत हो उठते हैं । "


Quote 38

" शक्ति जीवन है , निर्बलता मृत्यु है ।  विस्तार जीवन है , संकुचन मृत्यु है । प्रेम जीवन है , द्वेष मृत्यु है । "


Quote 39

" सुख और दुःख सिक्के के दो पहलु हैं । सुख जब मनुष्य के पास आता है तो  का मुकुट पहन कर आता है। "


Quote 40

वैसे ही जब दुःख मनुष्य के पास आता है तो सुख का मुकुट पहन कर आता है।

Quote 41 

प्रेम विस्तार है और स्वार्थ संकुचन है । इसलिए प्रेम जीवन का सिद्धांत है । वह जो प्रेम करता है जीता है , वह जो स्वार्थी है मर रहा है । "


Quote 42

" सभी जीवों से प्रेम करो , क्योंकि जीने का यही एक मात्र सिद्धांत है , वैसे ही जैसे कि तुम जीने के लिए सांस लेते हो । "


Quote 43

" किसी चीज से डरो मत । तुम अद्भुत काम करोगे । यह निर्भयता ही है जो क्षण भर में परम आनंद लाती है । "

Quote 44

" स्वतंत्र होने का साहस करो । जहाँ तक तुम्हारे विचार जाते हैं वहां तक जाने का साहस करो , और उन्हें अपने जीवन में उतारने का साहस करो । "


Quote 45

आदर्श , अनुशासन , मर्यादा , परिश्रम , ईमानदारी और उच्च मानवीय मूल्यों के बिना किसी का जीवन महान नहीं बन सकता ।

 

Quote 46 

" जब कोई विचार अनन्य रूप से मस्तिष्क पर अधिकार कर लेता है तब वह विचार वास्तविक , भौतिक या मानसिक अवस्था में परिवर्तित हो जाता है । "


Quote 47

" तुम्हे अन्दर से बाहर की तरफ विकसित होना है । कोई तुम्हे पढ़ा नहीं सकता , कोई तुम्हे आध्यात्मिक नहीं बना सकता । तुम्हारी आत्मा के आलावा तुम्हरा कोई और गुरु नहीं है । "


Quote 48

" भला हम भगवान को खोजने कहाँ जा सकते हैं अगर उसे अपने हृदय और हर एक जीवित प्राणी में नहीं देख सकते । "


Quote 49

" जिस क्षण मैंने यह जान लिया था कि भगवान हर एक मानव शरीर रूपी मदिर में विराजमान हैं , जिस क्षण मैं हर व्यक्ति के सामने श्रद्धा से खड़ा हो गया और उसके भीतर भगवान को देखने लगा- उसी क्षण में बन्धनों से मुक्त हो गया , हर वो चीज जो बांधती है नष्ट हो गयी , और मैं स्वतंत्र हूँ । "


Quote 50

हमारा कर्तव्य है कि हम हर किसी को उसका उच्चतम आदर्श जीवन जीने के संघर्ष में प्रोत्साहित करें , और साथ ही साथ उस आदर्श को ' सत्य ' के जितना निकट हो सके लाने का प्रयास करें ।

 

Quote 51

" उस व्यक्ति ने अमरत्व प्राप्त कर लिया है , जो किसी सांसारिक वस्तु से व्याकुल नहीं होता । "


Quote 52

" स्वामी विवेकानंद कहते हैं कि लगातार पवित्र विचार करते रहिए क्योकि बुरे संस्कारो को दबाने का यही एकमात्र समाधान है । "


इन्हें भी पढ़ें :-


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Featured Post

SSC GD General Science Question and answer in Hindi 2021
close