Top 25 wildlife sanctuary in India in Hindi

भारत के 25 महत्वपूर्ण वन्यजीव अभ्यारण । Top 25 wildlife sanctuary in India in Hindi 

भारत के प्रमुख वन्यजीव अभयारण्य


वन्यजीव अभयारण्य का महत्व -

सरकार अथवा किसी भी संस्था द्वारा वन , पशु विहार और पक्षी विहार के लिए संरक्षित क्षेत्र को वन्यजीव अभयारण्य कहा अभ्यारण कहा जाता है सरकार द्वारा इन वन्यजीव अभयारण्यों को बनाने का उद्देश्य विभिन्न प्रकार के पशु , पक्षी और वन संपदा को सुरक्षित रखना तथा जानवरों को आरामदायक जीवन प्रदान करना है भारत के केंद्र और राज्य सरकारों ने पशु-पक्षियों को सुरक्षित रखने के अनेक वन्य जीव अभयारण्यों का की स्थापना की भारत में वर्तमान में कुल 566 वन्य जीव अभ्यारण में है जिसमें से अनेक वन्यजीव अभयारण्यों को यूनेस्को द्वारा राष्ट्रीय महत्व का स्थल घोषित किया गया है ।

भारत के वन्यजीव अभ्यारण्य के बारे में महत्वपूर्ण तथ्य

• भारतीय जंगली गधा अभयारण्य , भारत का सबसे बड़ा वन्यजीव अभ्यारण्य है जो भारत के गुजरात राज्य में स्थित है इसकी स्थापना भारतीय वन संरक्षण अधिनियम के तहत सन 1972 में की गई थी तथा इसका कुल क्षेत्रफल 4954 वर्ग किलोमीटर है।

• भारत का सबसे छोटा वन्यजीव अभयारण्य, मयूरेश्वर वन्यजीव अभयारण्य है जो महाराष्ट्र में स्थित है यह अभयारण्य 5.14 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्र में फैला हुआ है ।

भारत के 25 महत्वपूर्ण वन्यजीव अभ्यारण, स्थापना, क्षेत्रफल की सूची 

1. काराकोरम वन्यजीव अभयारण्य , जम्मू-कश्मीर 

यह वन्यजीव अभयारण्य लद्दाख के लेह जिले के पूर्वी छोर पर स्थित काराकोरम रेंज में स्थित है इस वन्यजीव अभ्यारण की स्थापना वर्ष 1987 में की गई थी यह वन्य जीव अभ्यारण 5,000 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्र में फैला हुआ है शोधकर्ताओं द्वारा इस अभयारण्य का बड़े पैमाने पर सर्वेक्षण किया गया इस सर्वेक्षण में कई विशेष और लुप्तप्राय औषधीय पौधों की प्रजातियों की खोज की गयी ।

2. भगवान महावीर वन्यजीव अभयारण्य , गोवा

यह अभयारण्य, गोवा राज्य का सबसे बड़ा वन्यजीव अभ्यारण है  इस अभयारण्य का कुल क्षेत्रफल 240 वर्ग किलोमीटर है। 
इस अभ्यारण में पाए जाने वाले जानवर - हिरण , गुवार , मलायन विशाल गिलहरियां , हाथी , बाघ , कोबरा , अजगर , छिपकली , लैपकर्ड इत्यादि।

3. चिनार वन्यजीव अभयारण्य , केरल

यह अभयारण्य केरल राज्य के ईदुक्की जिले में स्थित है यह केरल का एकमात्र वन्यजीव अभयारण्य है जहां स्टार कछुए पाए जाते हैं इन्हें इंडियन स्टार कछुआ भी कहा जाता है यह कछुओं की एक प्रजाति है जो वर्तमान में संकटग्रस्त स्थिति में है ।

चिनार वन्यजीव अभयारण्य 450 स्टार कछुओं का आवास स्थल है इस अभयारण्य के पूर्व में कोडाईकनल वन्यजीव अभयारण्य जबकि इसके उत्तर में इंदिरा गांधी वन्यजीव अभ्यारण स्थित है ।

4. दांदेली वन्यजीव अभयारण्य , कर्नाटक

यह अभयारण्य भारत के कर्नाटक राज्य के उत्तर कन्नड़ जिले में स्थित है। यह अभयारण्य लगभग 866 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में फैला हुआ है इस अभयारण्य को पक्षियों का स्वर्ग कहा जाता है इसमें लगभग 200 पक्षियों की प्रजातियां पाई जाती है जिसमें ग्रेट इंडियन हॉर्नबिल और मालाबार पाइड हॉर्नबिल सबसे प्रसिद्ध है वर्ष 2006 में इस अभयारण्य को दांडेली टाइगर रिजर्व का हिस्सा घोषित किया गया था।

इस अभ्यारण में पाए जाने वाले जीव - सुस्त भालू , भारतीय पैंगोलिन , विशाल मालाबार गिलहरी , जंगली सियार , हाथी , मोर और लुटेरा मगरमच्छ इत्यादि।

5. भद्रा वन्यजीव अभयारण्य , कर्नाटक

यह अभ्यारण भारत के कर्नाटक राज्य के चिक्कमगलुरु जिले में स्थित है इस अभयारण्य को प्रोजेक्ट टाइगर के तहत एक संरक्षित क्षेत्र और बाघ अभयारण्य घोषित किया गया था इस अभयारण्य का कुल क्षेत्रफल 892.46 वर्ग किलोमीटर है इसकी स्थापना वर्ष 1951 में की गई थी।

6. रोलापाडु वन्यजीव अभयारण्य , आंध्रप्रदेश

यह वन्यजीव अभयारण्य आंध्र प्रदेश के कुरनूल जिले में स्थित है यह अभयारण्य 6.14 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में फैला हुआ है तथा इसकी स्थापना वर्ष 1988 में की गई थी ।

7. कोयना वन्यजीव अभयारण्य , महाराष्ट्र

यह अभयारण्य महाराष्ट्र राज्य के सितारा जिले में स्थित है यह अभयारण्य लगभग 424 वर्ग किलोमीटर इसे वर्ष 1985 में वन्यजीव अभयारण्य के रूप में अधिसूचित किया गया है।

8. तमोर पिंगला वन्यजीव अभ्यारण , छत्तीसगढ़

यह अभयारण्य छत्तीसगढ़ राज्य के सूरजपुर जिले में स्थित है 1978 में वन्यजीव अभयारण्य के रूप में  अधिसूचित किया गया था छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा वर्ष 2011 में इस अभयारण्य को सरगुजा जशपुर हाथी रिजर्व के एक हिस्से के रूप में अभी अधिसूचित किया गया था यह अभयारण्य 608 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्र में फैला हुआ है ।

9. सेंचल वन्यजीव अभयारण्य , पश्चिम बंगाल 

सेंचल वन्यजीव अभ्यारण भारत के सबसे पुराने वन्य जीव अभ्यारण्यों में से एक है यह अभयारण्य पश्चिम बंगाल राज्य के दार्जिलिंग जिले में स्थित है इस अभ्यारण की स्थापना में 1915 में की गई थी इस अभयारण्य का कुल क्षेत्रफल 38.6 वर्ग किलोमीटर है।

10. मानस वन्यजीव अभयारण्य , असम

यह अभयारण्य भारत के असम राज्य में स्थित है इस अभयारण्य की स्थापना वर्ष 1990 में की गई थी इस अभयारण्य का क्षेत्रफल 950 वर्ग किलोमीटर है। यूनेस्को द्वारा इस वन्यजीव अभयारण्य को विश्व धरोहर स्थल के रूप में अधिसूचित किया गया है यह अभयारण्य जंगली भैंसों के लिए प्रसिद्ध है इसके अतिरिक्त इस अभयारण्य में एक सींग वाला गेंडा और बारहसिंघा भी पाया जाता है।

11. चिल्का वन्यजीव अभयारण्य , उड़ीसा

यह अभयारण्य उड़ीसा राज्य का सबसे लोकप्रिय वन्यजीव अभ्यारण है यह अभयारण्य हजारों निवासी और प्रवासी पक्षियों का घर है यहां पर क‌ई प्रकार की पक्षियां पाई जाती है जिसमें फ्लेमिंगो, व्हाइट-बिल्ड स्टॉर्क, व्हाइट-बेलिड सी ईगल, ओपन-बिल स्टॉर्क, स्पूनबिल, स्पॉटबिल पेलिकन, बगुले, स्टिल्ट, सीगल और किंगफिशर पक्षियां शामिल हैं।

12. इंदिरा गांधी वन्यजीव अभ्यारण्य , तमिलनाडु

यह अभयारण्य तमिलनाडु  के कोयंबटूर जिले के अनामलाई पहाड़ी में स्थित है पहले इस अभयारण्य का नाम अनामलाई वन्यजीव अभयारण्य था लेकिन 7 अक्टूबर 1961 को प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने इस वन्यजीव अभयारण्य का दौरा किया था जिसके बाद इस अभयारण्य का नाम बदलकर इंदिरा गांधी वन्यजीव अभयारण्य रख दिया गया इस वन्यजीव अभयारण्य का क्षैत्रफल 958 वर्ग किलोमीटर है।

13. एतुर्नगरम वन्यजीव अभयारण्य , तेलंगाना

यह अभयारण्य तेलंगाना राज्य के मुलुगा जिले के एतुर्नगरम गांव में स्थित है इस अभ्यारण की स्थापना सन् 1952 में की गई थी तेलंगाना के सबसे पुराने अभ्यारण में से एक है इस अभयारण्य का क्षेत्रफल 812 वर्ग किलोमीटर है।

14. गोविंद वन्यजीव अभयारण्य , उत्तराखंड

यह अभयारण्य उत्तराखंड राज्य के उत्तरकाशी जिले में स्थित है इस अभ्यारण की स्थापना 1 मार्च 1955 को की गई थी लेकिन बाद में इसे राष्ट्रीय उद्यान में बदल दिया गया इस अभयारण्य का क्षेत्रफल 958 वर्ग किलोमीटर है 

15. नौरादेही वन्यजीव अभयारण्य , मध्य प्रदेश

यह अभ्यारण मध्य प्रदेश राज्य के 4 जिलों सागर , दमोह , नरसिंहपुर और जबलपुर में फैला हुआ है किस अभ्यारण की स्थापना सन् 1975 में की गई थी तथा यह अभयारण्य लगभग 1200 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में फैला हुआ है। इस अभयारण्य में चिंकारा, हिरण, नीलगाय, सियार, भेडि़या, लकड़बघ्घा ,जंगली कुत्ता, रीछ, मगर, सांभर,मोर, चीतल तथा कई अन्य वन्य जीव भी पाए जाते हैं। 

16. लैंडफॉल द्वीप वन्यजीव अभ्यारण , अंडमान और निकोबार

यह अभयारण्य भारत के अंडमान निकोबार द्वीप समूह में स्थित है इस वन्यजीव अभयारण्य की स्थापना सन् 1987 में की गई थी और यह अभयारण्य 29.28 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्र में फैला हुआ है।

17. तडोबा अंधारी टाइगर रिजर्व , महाराष्ट्र

यह टाइगर रिजर्व भारत के महाराष्ट्र राज्य के चंद्रपुर जिले में स्थित है टाइगर रिजर्व की स्थापना सन् 1955 में की गई इस टाइगर रिजर्व में तडोबा अंधारी राष्ट्रीय उद्यान और तडोबा अंधारी वन्यजीव अभयारण्य शामिल हैं यह टाइगर रिजर्व 625.4 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्र में फैला हुआ है।

18. कच्छ रेगिस्तान वन्यजीव अभयारण्य , गुजरात

यह अभयारण्य गुजरात के कच्छ जिले में स्थित एक प्रसिद्ध और गुजरात राज्य का सबसे बड़ा वन्यजीव अभ्यारण्य है इस अभयारण्य की स्थापना सन् 1986 में की गई थी ।

19. चक्रशिला वन्यजीव अभयारण्य , असम 

यह अभयारण्य भारत के असम राज्य के कोकराझार जिले में स्थित है यह अभयारण्य स्वर्ण लंगूर के लिए प्रसिद्ध है इस अभ्यारण की स्थापना सन् 1966 में की गई थी तथा इस अभयारण्य का क्षेत्रफल 45.568 वर्ग किलोमीटर है।

20. साक्षात्कार द्वीप वन्यजीव अभ्यारण , अंडमान

यह अभ्यारण भारत के अंडमान द्वीप में स्थित है यह अभयारण्य उत्तर अंडमान द्वीप और दक्षिण अंडमान द्वीप को विभाजित करता है इस अभ्यारण की स्थापना सन् 1985 में हाथियों की रक्षा के लिए किया गया था यह अभयारण्य 99 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्र में फैला हुआ है ।


21. काजीरंगा नेशनल पार्क , असम

काजीरंगा वन्यजीव अभयारण्य अथवा काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान , असम राज्य में स्थित है यह उद्यान लुप्तप्राय एक सिंह वाले गेंडे के लिए जाना जाता है इस राष्ट्रीय उद्यान में बाघों की अधिक संख्या होने के कारण वर्ष 2006 में इस राष्ट्रीय उद्यान को बाघ अभयारण्य के रूप में घोषित किया गया राष्ट्रीय उद्यान को विश्व यूनेस्को द्वारा विश्व धरोहर स्थल के रूप में भी घोषित किया गया है तथा यह राष्ट्रीय उद्यान 430 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्र में फैला हुआ है।

22. गिर वन्यजीव अभयारण्य , गुजरात

यह अभयारण्य भारत के गुजरात राज्य में स्थित है यह अभयारण्य एशिया में शेरों का एकमात्र निवास स्थान होने के कारण जाना जाता है इस वन्यजीव अभयारण्य की स्थापना सन् 1965 में की गई थी तथा इसका क्षेत्रफल 1412 वर्ग किलोमीटर है।

23. नागरहोल वन्यजीव अभयारण्य / राजीव गांधी वन्यजीव अभ्यारण , कर्नाटक

यह अभयारण्य कर्नाटक राज्य के मैसूर जिले में स्थित है इस अभ्यारण की स्थापना सन 1988 में की गई थी तथा इसका क्षेत्रफल 483 वर्ग किलोमीटर है इस अभयारण्य में एशियाई हाथी पाए जाते हैं इस अभयारण्य में हाथियों के बड़े-बड़े झुंड देखे जा सकते हैं वर्तमान में इस अभयारण्य को राजीव गांधी वन्यजीव अभयारण्य के नाम से जाना जाता है।

24. भारतीय जंगली गधा वन्य जीव अभ्यारण , गुजरात

भारतीय जंगली वन्यजीव अभयारण्य गुजरात के क्षेत्र में स्थित एक महत्वपूर्ण वन्यजीव अभयारण्य है यह भारत का सबसे बड़ा वन्यजीव अभ्यारण है इस अभयारण्य की स्थापना भारतीय वन संरक्षण अधिनियम, 1972 के तहत सन् 1972 में किया गया था यह वन्यजीव अभयारण्य 4954 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्र में फैला हुआ है यह अभयारण्य एशियाई जंगली गधों के लिए जाना जाता है यहां पर लुप्तप्राय जंगली गधों की  क‌ई प्रजातियां पाई जाती है।

25. पेरियार वन्यजीव अभयारण्य, केरल

यह वन्यजीव अभयारण्य केरल राज्य के पश्चिमी घाट की सुरम्य पहाड़ियों के बीच स्थित है यह केरल के प्रसिद्ध राष्ट्रीय उद्यानों में से एक है इस अभयारण्य को बाघ और हाथियों के लिए संरक्षित क्षेत्र माना जाता है इस अभयारण्य के संरक्षित क्षेत्र का क्षेत्रफल 950 वर्ग किलोमीटर है इसलिए भारत सरकार द्वारा 1982 में इस क्षेत्र के 350 वर्ग किलोमीटर राष्ट्रीय उद्यान घोषित कर दिया गया।


* अगर आपको यह पोस्ट अच्छी लगे तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करे इससे जुड़े किसी भी सवाल के लिए आप हमें कमेंट कर सकते हैं ।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Featured Post

SSC GD General Science Question and answer in Hindi 2021