Join Telegram channel for latest update

भूगोल की परिभाषा एवं शाखाएं ‌। Definition and Types of Geography in Hindi 2022

भूगोल की परिभाषा एवं शाखाएं ‌। Definition and Types of Geography in Hindi 2022


Geography in Hindi


भूगोल की परिभाषा ( Geography Definition in hindi ) :- 

सट्रेबो नामक महान भूगोलवेत्ता एवं इतिहासकार के अनुसार, " भूगोल " एक ऐसा स्वतन्त्र विषय है, जिसका उद्देश्य संपूर्ण विश्व में निवास करने वाले लोगों आकाशीय पिण्डों,  महासागरों, जीव-जन्तुओं एवं वनस्पतियों का अध्ययन करना है।

इमेनुअल काण्ट के अनुसार, " भूगोल " एक ऐसा विषय है जिसके अंतर्गत संपूर्ण धरातल एवं पृथ्वी के भूतल के विभिन्न भागों में पायी जाने वाली पृष्ठभूमि का अध्ययन किया जाता है। तथा जिसमें सभी घटनाओं के मध्य जटिल एवं क्रियाशील संबंधो पर विशेष ध्यान दिया जाता है भूगोल कहलाता है।

कार्ल रिटर ने भी भूगोल का वर्णन करते हुए कहा है कि " भूगोल " विज्ञान का वह भाग है जिसके अंतर्गत पृथ्वी को स्वतंत्र मानते हुए इस संपूर्ण धरातल या पृथ्वी में होने वाली सभी घटनाओं और उनके संबंधों का विस्तारपूर्वक अध्ययन किया जाता है। 

टॉल्मी ने भूगोल के संबंध में कहा है कि जिसके अंतर्गत पृथ्वी तथा संपूर्ण ब्रह्माण्ड के आपसी संबंधों का अध्ययन किया जाता है भूगोल कहलाता है। इन्होंने ही सर्वप्रथम विश्व के मानचित्र निर्माण किया तथा उसे परिभाषित किया टॉलमी ने विश्व के मानचित्र को परिभाषित करते हुए लिखा है कि " भूगोल " एक ऊर्ध्वपातन विज्ञान है जो इस संपूर्ण पृथ्वी का परावर्तन देखता है।

हार्टशोर्न ने भूगोल की परिभाषा देते हुए कहा है कि "भूगोल " वह अनुशासन है जो इस पृथ्वी को मनुष्य जाति का संसार मानकर एक स्थान से दूसरे स्थान पर विभिन्न लक्षणों का अध्ययन किया जाता है।

मोकहाउस ने भूगोल के संबंध में कहा है कि भूगोल, विज्ञान की वह शाखा है जिसके अंतर्गत इस पृथ्वी पर प्राकतिक तथा मानवीय दोनों प्रकार के तथ्यों एवं वितरणों तथा मानव निवास के रूप में संपूर्ण पृथ्वी के धरातल की क्षेत्रीय विभिन्नताओं का अध्ययन किया जाता है भूगोल कहलाता है।

एकरमैन जो एक अमेरिकी विद्वान और भूगर्भशास्त्री है उन्होंने भूगोल के संबंध में कहा है कि " भूगोल "वह विज्ञान है जिसके अंतर्गत पृथ्वी के इस संपूर्ण धरातल पर समस्त मानव जाति एवं पृथ्वी के पर्यावरण की पारस्परिक क्रिया प्रणाली का अध्ययन किया जाता है। 
ब्रोएक भूगोल के संबंध में कहा है कि मानव विश्व के रूप में पृथ्वी तल के विाभन्नताओं का क्रमबद्ध ज्ञान ही भूगोल है।

भूगोल के संबंध में जीन बून्श का विचार है कि वर्तमान समय में भूगोल कोई वर्णनों की सूची नहीं है किन्तु यह एक इतिहास है भूगोल वर्तमान में केवल स्थान मात्र की गणना नहीं करता अपितु यह एक व्यवस्थित क्रमबद्ध विषय है जिसका उद्देश्य कार्यशील तथ्यों के प्रत्यक्ष प्रभाव को वर्गीकृत करना तथा उनको समझना है।


भूगोल के प्रकार / भूगोल की शाखाएं :-

वैसे तो भूगोल कई शाखाएँ है जिन्हें भौतिक तथा मानवीय परिघटनाओं के रूप में वर्गीकृत किया गया है लेकिन भूगोल को मुख्यत: तीन शाखाओं में वर्गीकृत किया गया है भूगोल की सभी उपशाखाओं को इन्हीं तीन मुख्य शाखाओं में वर्गीकृत किया गया है भूगोल के ये सभी तीन प्रमुख शाखाएँ है :-

1. भौतिक भूगोल 

2. मानव भूगोल

3. प्रादेशिक भूगोल 


1. भौतिक भूगोल की परिभाषा ( physical geography definition in Hindi ) :- 

भूगोल की वह शाखा जिसके अंतर्गत भौतिक परिघटनाओं अर्थात भूगोल मौसम विज्ञान, रसायन शास्त्र, भूगर्भशास्त्र, जंतु विज्ञान आदि का अध्ययन किया जाता है भौतिक भूगोल कहलाता है भौतिक भूगोल की विभिन्न - विभिन्न क्षेत्र का अध्ययन करने के लिए इसे भिन्न-भिन्न शाखाओं में वर्गीकृत किया गया है ताकि उनका अध्ययन अच्छे किया जा सके भौतिक भूगोल को मुख्यतः 6 उपशाखाओं में वर्गीकृत किया गया है।

भौतिक भूगोल की उपशाखाएँ :-

1. खगोलीय भूगोल 
2. जलवायु विज्ञान 
3. भू आकृति विज्ञान 
4. जैव विज्ञान 
5. समुद्र विज्ञान 
6. मृदा विज्ञान 


2. मानव भूगोल की परिभाषा ( Human Geography definition in Hindi ) :-

भूगोल की वह शाखा जिसके अंतर्गत पृथ्वी की सतहों एवं मानव समुदाय के बीच संश्लेषित पदार्थों एवं पर्यावरण का अध्ययन किया जाता है मानव भूगोल कहलाता है भूगोल की शाखा के अंतर्गत संपूर्ण मानव समुदाय का अध्ययन किया जाता है मानव भूगोल को भी 8 मुख्य उपशाखाओं में वर्गीकृत किया गया है।

मानव भूगोल की उपशाखाएँ :-

1. मानवविज्ञान भूगोल 
2. आर्थिक भूगोल 
3. सांस्कृतिक भूगोल 
4. राजनीतिक भूगोल 
5. सामाजिक भूगोल 
6. ऐतिहासिक भूगोल 
7. जनसंख्या भूगोल 
8. अधिवास भूगोल 


3. प्रादेशिक भूगोल की परिभाषा ( Regional Geography definition in Hindi ) :- 

भूगोल की वह शाखा जिसके अंतर्गत प्रदेशों का सीमांकन और मानवीय समानताओं के आधार पर सम्पूर्ण धरातल का वर्गीकरण एवं विभिन्न क्षेत्रो का सीमांकन करके उनका अध्ययन किया जाता है प्रादेशिक भूगोल कहलाता है। 


भूगोल से संबंधित कुछ पूछे जाने वाले प्रश्न :- 

1. भूगोल का जनक कौन है ?

उत्तर :- हिकेटियस को भूगोल का जनक का पिता कहा जाता है जिन्होंने ही सर्वप्रथम कहा था कि संपूर्ण विश्व का स्थल भाग सागरो से घिरा हुआ है तथा इन्होंने ही सर्वप्रथम संपूर्ण विश्व का क्रमबद्ध अध्ययन किया।


2. भूगोल की कितनी मुख्य शाखाएं हैं ?

उत्तर :- ऐसे तो भूगोल की कई शाखाएं हैं लेकिन भूगोल को मुख्यत: तीन शाखाओं में वर्गीकृत किया गया है इन्हीं तीन शाखाओं के अंतर्गत संपूर्ण ब्रह्मांड का अध्ययन किया जाता है।


3. आधुनिक मानव भूगोल का जनक किसे माना जाता है ?

उत्तर :- कार्ल रिटर को आधुनिक भूगोल का जन्मदाता माना जाता है जिन्होंने सर्वप्रथम कार्बनिक समानता के उपयोग का उल्लेख किया था।


इन्हें भी पढ़ें :- 



एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Featured Post

Fruits Name in Hindi and English । सभी फलों के नाम हिंदी और अंग्रेजी में
close