Top 10 Longest Railway Bridge in India in hindi । भारत की 10 सबसे लंबी रेलवे ब्रिज

Top 10 Longest Railway Bridge in India in hindi 2022 । भारत की 10 सबसे लंबी रेलवे ब्रिज

पुल या ब्रिज एक ऐसी संरचना है जिसे हम यातायात का रास्ता या स्रोत कह सकते है जो नीचे के रास्ते को अवरुद्ध किए बिना भौतिक बाधा को दूर कर यातायात के लिए बनाया जाता है इसका निर्माण आम तौर पर ऐसी बाधाओं को पार करने के उद्देश्य से किया जाता था जिसे पास करना मुश्किल होता है इन पुलों का निर्माण मुख्य रूप से नदियों एवं समुद्रो के ऊपर आवागमन के लिए किया जाता है इन पुलों को क‌ई वर्गों में विभाजित किया जा सकता है क्योंकि इन पुलों में रेल मार्ग, सड़क मार्ग तथा पैदल मार्ग बनाया जाता है जिसका प्रयोग मुख्य रूप से आवागमन के लिए किया जाता है आज हम इस आर्टिकल में आपको भारत के 15 सबसे लंबे रेलवे ब्रीज के बारे में सभी जानकारी बताने जा रहे हैं यदि आप भी भारत के सबसे लंबे रेलवे ब्रीजो के बारे में जानना चाहते हैं तो हमारे इस आर्टिकल को जरूर पढ़ें।

पुलों के निर्माण का कारण :-

इन पुलों के निर्माण के क‌ई कारण है लेकिन मुख्य रूप से नदियों एवं समुद्रो में बनाये जाने वाले पुलों के निर्माण का मुख्य कारण व्यापार को आसान करने के लिए विभिन्न शहरों एवं राज्यो की आपसी दूरी को कम करना तथा उन्हें एक दूसरे के साथ जोड़ना है। इन पुलों के द्वारा दो या उससे अधिक शहरों को आपस में जोड़ा जाता है जिन शहरों को जोड़ने का कोई दूसरा मार्ग न हो अथवा उनका मार्ग बहुत घुमावदार और लंबा हो।

भारत की 10 सबसे लंबे रेलवे ब्रिज की सूची और संपूर्ण जानकारी

1. वेंबनाद रेलवे ब्रिज, केरल ( Bembnad Railway Bridge, Kerala )

भारत के केरल राज्य के कोच्चि शहर में स्थित वेंम्बनाड रेलवे ब्रीज भारत का सबसे लंबा रेलवे ब्रिज है यह ब्रिज 4.62 किलोमीटर लंबा है है आपको बता दें कि इस ब्रिज का निर्माण कार्य वर्ष 2011 में शुरू किया गया था तथा 31 मार्च 2010 को यह ब्रिज पूरी तरह बनकर तैयार हुआ उस समय यह भारत का दूसरा सबसे लंबा रेलवे ब्रिज था जिसके प्रशचात 11 फरवरी 2011 में वेम्बनाड ब्रीज का उद्घाटन किया गया जिसके प्रशचात लगभग 9 वर्षों की अनुपयोगी अवधि के बाद जनवरी 2020 में माल ढुलाई के लिए इस रेलवे ब्रिज को फिर से शुरू किया गया और वर्तमान समय में यह भारत का सबसे लंबा रेलवे ब्रिज है यह ब्रिज कोच्चि शहर के एडापल्ली और वल्लारपदम शहर को आपस में जोड़ता है।

वेम्बनाड रेलवे ब्रिज की सबसे बड़ी खासियत यह है कि इस रेलवे ब्रिज के नीचे से बड़े समुद्री जहाज भी गुजर सकते हैं और वर्तमान समय में यह ब्रिज पूर्ण रूप से माल ढुलाई के लिए उपयोग किया जा रहा है।


2. नेहरू सेतु रेल ब्रिज, बिहार ( Nehru Setup Rail Bridge, Bihar )

भारत के बिहार राज्य में स्थित नेहरू सेतु रेल ब्रिज भारत का दूसरा सबसे लंबा रेलवे ब्रिज है इस रेल ब्रिज को अपर सोन ब्रिज के नाम से भी जाना जाता है जो सोन नदी परबना हुआ है। यह रेल ब्रिज डेहरी व सोन नगर को आपस में जोड़ता है यह भारत के सबसे पुराने रेलवे ब्रिजो में से एक है क्योंकि 27 फरवरी 1900 को माल ढुलाई के लिए इस ब्रिज को खोला गया था रेलवे ब्रिज की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि इस ब्रिज में मुख्य रूप से पत्थर और स्टील का उपयोग किया गया है सोन नदी पर स्थित यह ब्रिज 3,059 मीटर लंबा है।

3. हैवलॉक ब्रिज, आंध्र प्रदेश (  Havelock Bridge, Andhra Pradesh )

हैवलॉक ब्रिज जिसे पुराना गोदावरी ब्रिज भी कहा जाता है आंध्र प्रदेश में गोदावरी नदी पर बना यह रेल ब्रिज भारत के सबसे पुराने रेलवे ब्रिज में से एक हैं यह रेल ब्रिज 2.7 किलोमीटर लंबा है इस ब्रिज का निर्माण 11 नवम्बर 1897 को शुरू किया गया था जिसके बाद 30 अगस्त सन्को 1900 को इस ब्रिज को यातायात के लिए खोल दिया गया उस समय इस ब्रिज का नाम मद्रास के तत्कालीन गवर्नर सर आर्थर एलीफैंट हैवलॉक के नाम पर रखा गया। वर्ष 1997 में इस रेलवे ब्रिज को सेवा मुक्त कर दिया गया और वर्तमान समय में यह भारत का एक सेवा मुक्त रेलवे पुल है सन् 1900 में शुरू हुआ यह रेलवे ब्रिज हावड़ा और मद्रास के मध्य अपनी सेवा देता था।

वर्तमान समय में इस रेल ब्रिज का उपयोग नागरिक जलापूर्ति पाइपलाइन के रूप में किया जा रहा है।


4. गोदावरी आर्च ब्रिज, आंध्र प्रदेश ( Godavari Arch Bridge, Andhra Pradesh )

गोदावरी आर्च ब्रिज गोदावरी नदी पर स्थित आंध्र प्रदेश राज्य का एक नवीनतम रेलवे ब्रिज है जो 2745 मीटर लंबा है गोदावरी आर्च ब्रिज आंध्र प्रदेश के राजमुंदरी में स्थित एक सिंगल रेलवे लाइन ब्रिज है जो हैवलॉक ब्रिज के समीप स्थित है गोदावरी आर्च ब्रिज का निर्माण हैवलॉक ब्रिज के प्रतिस्थापन के रूप में मनाया गया था इस गृह निर्माण कार्य वर्ष 1991 में शुरू किया गया था तथा वर्ष 1997 में यह ब्रिज बनकर तैयार हो गया जिसके पश्चात 12 मार्च 1997 को इस ब्रिज को सेवा के लिए खोल दिया गया और इसने पुराने हैवलॉक ब्रिज का स्थान लिया।

गोदावरी आरक्षण ब्रिज की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि यह एशिया की सबसे प्रतिष्ठित कंक्रीट आर्च ब्रिज में से एक है।

5. महानदी रेल ब्रिज ओडीशा (  Mahanadi Rail Bridge, Odish )

भारत के उड़ीसा राज्य के कटक में महानदी पर स्थित महानदी रेलवे ब्रिज 2.1 किलोमीटर लंबा है यह ब्रिज भारत के सबसे लंबे रेल ब्रिज में से एक है इस बीज का निर्माण कार्य वर्ष 2005 में शुरू किया गया था वर्ष 2008 में यह ब्रिज बनकर तैयार हो गया इस ब्रिज को बनाने में 120 करोड़ रुपए का खर्च आया था वर्ष 2008 में ही इस ब्रिज को सेवा के लिए खोल दिया गया। इस ब्रिज को बनाते समय इसे 160 किलोमीटर प्रति घंटे की ट्रेन की गति के लिए डिजाइन किया गया है तथा भूकंप से निपटने के लिए इसमें पर्याप्त कदम भी उठाया गया है इसे दूसरा महानदी रेल ब्रिज के नाम से भी जाना जाता है।

6. पामबन ब्रिज, तमिल नाडु ( Pamban Bridge, Tamil Nadu )

पामबन ब्रिज तमिलनाडु के रामेश्वरम में स्थित भारत का एक प्रमुख रेलवे ब्रिज है इस ब्रिज की कुल लंबाई 2,065 मीटर है। यह रेलवे ब्रिज पामबन द्वीप पर रामेश्वरम शहर को भारत के मुख्य भूमि से जोड़ता है इस ब्रिज को 24 फरवरी 1914 को खोला गया था पामबन रेलवे ब्रिज भारत का सबसे पहला समुद्री ब्रिज है वर्ष 2010 में बांद्रा वर्ली सी लिंक के खुलने से पहले तक यह ब्रिज भारत का सबसे लंबा समुद्री ब्रिज था।

7. शरावती रिवर ब्रिज, कर्नाटका (  Sharavathi River Bridge, Karnataka )

शरावती रिवर ब्रिज कर्नाटक राज्य के होन्नावर के दक्षिण में स्थित भारत का एक प्रमुख रेलवे ब्रिज है इस ब्रिज के निर्माण कार्य को वर्ष 1994 में पूरा कर लिया गया था यह रेल ब्रिज कोंकण रेलवे को शरावती नदी के ऊपर से ले जाता है 2060 मीटर लंबा शरावती रेलवे ब्रिज भारत के कर्नाटक राज्य का सबसे लंबा रेलवे ब्रिज है।

8. कोंकण रेलवे ब्रिज महाराष्ट्र ( Konkan Railway Bridge Maharashtra )

भारत के महाराष्ट्र में स्थित कोंकण रेलवे ब्रिज को जुआरी ब्रिज के नाम से भी जाना जाता है 1,319 मीटर लंबा यह रेल ब्रिज कोंकण रेलवे लाइन का सबसे लंबा ब्रिज है जो भारत के महाराष्ट्र, गोवा और कर्नाटक राज्य को आपस में जोड़ता है।

9. बलावली रेलवे ब्रिज, उत्तर प्रदेश ( Balawali Railway Bridge, Uttar Pradesh )

भारत के उत्तर प्रदेश में लक्सर नजीबाबाद रेलवे मार्ग के बीच बलावली के निकट गंगा नदी पर बनाया गया यह रेल ब्रिज उत्तर प्रदेश राज्य का सबसे नवीनतम रेलवे ब्रिज है यह रेलवे ब्रिज बलावली रोड ब्रिज के समानांतर चलता है बावली रेलवे ब्रिज की कुल लंबाई 840 मीटर है।

10. जुबली ब्रिज हुगली , पश्चिम बंगाल ( Jubilee Bridge Hooghly, west Bengal )

जुबली ब्रिज पश्चिम बंगाल राज्य के कोलकाता में नैहाटी और बंदेल के बीच हुगली नदी पर स्थित एक प्रसिद्ध रेलवे ब्रिज है यदि हम इसे भारत का सबसे पुराना रेल ब्रिज कहे तो गलत नही होगा क्योंकि इस ब्रिज का निर्माण कार्य सन 1983 ईस्वी में महारानी विक्टोरिया के शासनकाल में शुरू हुआ था सन 1987 में इस ब्रिज का निर्माण कार्य पूरा हुआ लेकिन 16 फरवरी 1885 को ही महारानी विक्टोरिया की शासनकाल के 50 वें वर्ष की उपलक्ष्य में इस ब्रिज को खोल दिया गया यह एक कैंटीलीवर ब्रिज है 129 वर्षों की सेवा के बाद 17 अप्रैल 2016 को जुबली ब्रिज को सेवा से मुक्त कर दिया गया और इसके स्थान पर एक नया रेल ब्रिज संप्रीती रेल ब्रिज के नाम पर बनाया गया और जुबली ब्रिज के स्थान पर इसने अपनी सेवा शुरू की इस ब्रिज की कुल लंबाई 482 मीटर है।

इन्हें भी पढ़ें :- 

Leave a Comment